pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
शादी
शादी

कई बार इंसान समाज में रहते हुए भी,भीड़ में भी अकेला हो जाता है..ख़ासकर तब जब वह संपन्न न हो तो अपने संपन्न कुटुंबियों के बीच वह वैसे ही रहता है जैसे बत्तीस दाँतों के बीच जीभ एक लड़की के ऐसे ही ...

4.6
(207)
14 मिनट
पढ़ने का समय
8276+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

शादी

4K+ 4.4 8 मिनट
03 नवम्बर 2020
2.

अपशकुनी

4K+ 4.6 6 मिनट
06 नवम्बर 2020