pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
लघुकथा : गुलामी बदल गई
लघुकथा : गुलामी बदल गई

लघुकथा : गुलामी बदल गई

गुलामी बदल गई नेता अपने मित्रों के साथ बैठे गप्प-शप्प कर रहे थे। नौकर बुलाने की घंटी बजायी। नौकर दौड़ा गया कमरे की ओर, परंतु हंसते-हंसते लोट-पोट होते हूए बाहर आया । दूसरे नौकर ने पूछा, भई, क्यों, ...

4.1
(39)
2 മിനിറ്റുകൾ
पढ़ने का समय
1498+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

लघुकथा : गुलामी बदल गई

370 4.1 1 മിനിറ്റ്
05 ഡിസംബര്‍ 2020
2.

लघुकथा : घंटी

315 4.4 1 മിനിറ്റ്
05 ഡിസംബര്‍ 2020
3.

लघुकथा : हिंदी का अनुमान

281 4.4 1 മിനിറ്റ്
05 ഡിസംബര്‍ 2020
4.

लघुकथा (व्यंग्य) : भिखारी ...!!!

इस भाग को पढ़ने के लिए ऍप डाउनलोड करें
locked
5.

लघु व्यंग्य : डॉक्टर

इस भाग को पढ़ने के लिए ऍप डाउनलोड करें
locked