pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
मनमानी
मनमानी

सुधा अपने फ्लैट की बालकनी में अपनी 2 साल की बेटी को गोद में लिए अनुराग का इंतजार कर रही थी सोच रही थी समय कैसे पंख लगाकर उड़ जाता है शादी के तीन साल कैसे गुजर गए पता ही नहीं चला, लगता है कुछ ...

4.3
(382)
16 நிமிடங்கள்
पढ़ने का समय
32029+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

मनमानी

7K+ 4.5 3 நிமிடங்கள்
25 மே 2021
2.

मनमानी २

6K+ 4.5 3 நிமிடங்கள்
26 மே 2021
3.

मनमानी भाग 3

6K+ 4.6 3 நிமிடங்கள்
03 ஜூன் 2021
4.

मनमानी भाग 4

इस भाग को पढ़ने के लिए ऍप डाउनलोड करें
locked
5.

मनमानी भाग 5

इस भाग को पढ़ने के लिए ऍप डाउनलोड करें
locked