pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
कर्मजली
कर्मजली

उसकी माँ कभी भी उसे उसके नाम से नहीं बुलाती।वह अपने माता-पिता की दूसरी औलाद थी। बडे़ प्यार से उसका नाम उन्होंने राजलक्ष्मी रखा था।        राजलक्ष्मी रंग-रूप और स्वभाव से थी भी अपने नाम के अनुसार ...

4.3
(471)
9 मिनट
पढ़ने का समय
27528+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

कर्मजली

7K+ 4.6 2 मिनट
18 मई 2019
2.

कर्मजली-2

6K+ 4.6 2 मिनट
18 मई 2019
3.

कर्मजली-3

6K+ 4.5 2 मिनट
18 मई 2019
4.

कर्मजली भाग ४

इस भाग को पढ़ने के लिए ऍप डाउनलोड करें
locked