pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
तंत्र की संतान
तंत्र की संतान

बबिता की शादी मानो घर वालों के लिए आफत ही बन चुकी थी, माँ बाप भी बबिता के भूत प्रेत वाले शौक से अब तंग आ चुके थे, बबिता की चाह खत्म ही न होती, कभी एक कितान तो कभी दूसरी, लोग लाइब्रेरी जातें हैं ...

4.3
(286)
13 मिनट
पढ़ने का समय
16844+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

तंत्र की संतान - 1

5K+ 4.4 4 मिनट
04 सितम्बर 2021
2.

तंत्र की संतान - 2

5K+ 4.4 5 मिनट
05 सितम्बर 2021
3.

तंत्र की संतान - 3

5K+ 4.3 4 मिनट
05 सितम्बर 2021