pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी
Pratilipi Logo
बेटे की चाहत में लगाया मौत को गले 😞😞
बेटे की चाहत में लगाया मौत को गले 😞😞

बेटे की चाहत में लगाया मौत को गले 😞😞

ये कहानी  उस माँ  की  है  जो बेटे की  चाह  में  हद  से  गुजर   गयी और  छोड़ गयी  हज़ारों  सवाल। इस समाज के लिए।?????   क्या कभी मिल पाएगा उनका जवाब।।  ?  वो हर पल खुश  रहती थी  सबसे  मिलना  ...

4.8
(83)
12 मिनट
पढ़ने का समय
1986+
लोगों ने पढ़ा
library लाइब्रेरी
download डाउनलोड करें

Chapters

1.

बेटे की चाहत

743 4.7 4 मिनट
17 जून 2021
2.

बेटे की चाहत

663 4.7 6 मिनट
19 जून 2021
3.

बेटे की चाहत।

580 4.9 2 मिनट
20 जून 2021