pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

Trust(विश्वास)

4.4
263

विस्वास हर चीजो का जश्न मनाना जरूरी है। जो जश्न से अति है वो जीवनभर याद राह जाती है। कभी प्यार होगा ये पहले तो सोचा ही नही था। पर है कभी बांध स्टूडियो में अकेले बैठकर ख्वाब देखा करती थी कि ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
Madhuri gajjar

story and poet writer teacher at SEN CBSE

समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Shailendra Chaturvedi
    05 நவம்பர் 2019
    wow ❤❤ great writing really like it
  • author
    Vikash Bhargav
    03 ஏப்ரல் 2020
    very good story 😊
  • author
    Sandeep Kumar
    13 டிசம்பர் 2020
    बहुत बढ़िया
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Shailendra Chaturvedi
    05 நவம்பர் 2019
    wow ❤❤ great writing really like it
  • author
    Vikash Bhargav
    03 ஏப்ரல் 2020
    very good story 😊
  • author
    Sandeep Kumar
    13 டிசம்பர் 2020
    बहुत बढ़िया