pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

Happy New year

5
17

कुछ रंजिशें थी, कुछ अधूरी ख्वाहिशे थी, कुछ गम थे, कुछ सवाल थे, कुछ असफलताए थी, लेकिन इस साल में कुछ तो बात थी, बहुत कुछ शिखा गया ये साल, और कुछ यादे भी थी बेमिसाल, बिता साल जा चुका है, और आने ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
Nensi Suchak

instagram..@malang_nen

समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Pravin Mori
    01 ಜನವರಿ 2019
    happy new year
  • author
    Sunil Jaiswal
    01 ಜನವರಿ 2019
    Happy new year
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Pravin Mori
    01 ಜನವರಿ 2019
    happy new year
  • author
    Sunil Jaiswal
    01 ಜನವರಿ 2019
    Happy new year