pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

फैमिली कोर्ट

4.6
21391

🏰            फैमिली कोर्ट      🗽 . ✍‘‘नमस्कार जज अंकल,’’ मैं ट्रेन में सीट पर सामान रख कर बैठा ही था कि सामने बैठी एक खूबसूरत व संभ्रांत घर की लगने वाली युवती ने मुझे प्यार व अपनत्व वाली आवाज में ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
WhatsApp Stories

Owner - Jitendra Goyal

समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Deepak SINGLA
    09 സെപ്റ്റംബര്‍ 2018
    काश की कभी कोई तलाक के लिए फैमिली कोर्ट जाए ही नहीं, शुभकामनाएं
  • author
    Rajkumari Mansukhani
    12 സെപ്റ്റംബര്‍ 2021
    bahut hi pyara message aur satya bhi
  • author
    Urmila Sharma
    31 മാര്‍ച്ച് 2022
    प्रेरणादायक बेहतरीन परिवारिक और समाजिक कहानी । बच्चो के उज्ज्वल भविष्य के लिए माता पिता को आपसी रंजिश भूला देना ही उचित कदम है । परिवार के टूटने से बच्चे दिशा विहीन हो जाते है । माता पिता बनते ही जिम्मेदारीओ का बढना स्वाभाविक है ।
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    Deepak SINGLA
    09 സെപ്റ്റംബര്‍ 2018
    काश की कभी कोई तलाक के लिए फैमिली कोर्ट जाए ही नहीं, शुभकामनाएं
  • author
    Rajkumari Mansukhani
    12 സെപ്റ്റംബര്‍ 2021
    bahut hi pyara message aur satya bhi
  • author
    Urmila Sharma
    31 മാര്‍ച്ച് 2022
    प्रेरणादायक बेहतरीन परिवारिक और समाजिक कहानी । बच्चो के उज्ज्वल भविष्य के लिए माता पिता को आपसी रंजिश भूला देना ही उचित कदम है । परिवार के टूटने से बच्चे दिशा विहीन हो जाते है । माता पिता बनते ही जिम्मेदारीओ का बढना स्वाभाविक है ।