pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

एक बेटी का पिता.

4.6
3898

एक पिता ने अपनी बेटी की सगाई करवाई, लड़का बड़े अच्छे घर से था तो पिता बहुत खुश हुए। लड़के ओर लड़के के माता पिता का स्वभाव बड़ा अच्छा था तो पिता के सिर से बड़ा बोझ उतर गया।एक दिन शादी से पहले लड़के ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
सुरेश शर्मा
समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    02 अगस्त 2020
    ऐसी अच्छी कहानी लिखने वाले, जरूर ही आप एक संस्कारी बेटी के पिता होंगे 🙏🙏
  • author
    Sarla Chaudhary
    25 फ़रवरी 2020
    इस कहानी के माध्यम से बहुत ही सुन्दर बात कही है ।बेटी माता-पिता पर बोझ नहीं होती ।वरन् घर की रौनक होती है ।
  • author
    hamid hussian
    11 जून 2021
    लेखक जी आपका बहोत धन्यवाद सहीं में बेटी एक बाप के लिए उसकी माँ की तरह ही महेसूस होती है ।
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    02 अगस्त 2020
    ऐसी अच्छी कहानी लिखने वाले, जरूर ही आप एक संस्कारी बेटी के पिता होंगे 🙏🙏
  • author
    Sarla Chaudhary
    25 फ़रवरी 2020
    इस कहानी के माध्यम से बहुत ही सुन्दर बात कही है ।बेटी माता-पिता पर बोझ नहीं होती ।वरन् घर की रौनक होती है ।
  • author
    hamid hussian
    11 जून 2021
    लेखक जी आपका बहोत धन्यवाद सहीं में बेटी एक बाप के लिए उसकी माँ की तरह ही महेसूस होती है ।