pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

बावरा मन - A poetic tale

4.7
179

बावरा मन चंद उलझी साँसें रिहा कर, उसने चैन की सांस ली। सुकून भरे उस लम्हे ने, नजाने कितनी ख्वाइशों को थी उसके दिल मे पनाह दी। मदहोश वो, हर ख्वाब अपने आब से सी रही थी। सच्चे प्यार की उम्मीद शायद ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
The Mindhunter

CS (Company Secretary) by profession, dreamer by birth. Dream to be a writer, hence writing for the dream.

समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    theMountain Chase
    20 जून 2020
    आपकी बाकी सभी कहानियां पढ़ी बहुत अच्छा लिखते हो , ख़ासकर शब्दों का चुनाव बहुत ही सटीक है , इस कहानी की विशेष बात ये है कि ये अपने आप में एक खूबसरत कविता है ,मुझे तो बहुत पसंद आई... आप ऐसे ही हमेशा लिखते रहो और हम पसंद करते रहेंगे...😊😊
  • author
    Megha Jethva
    10 जून 2020
    Awesome story narrated in a poetic manner...
  • author
    Akansha
    20 जून 2021
    👍
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    theMountain Chase
    20 जून 2020
    आपकी बाकी सभी कहानियां पढ़ी बहुत अच्छा लिखते हो , ख़ासकर शब्दों का चुनाव बहुत ही सटीक है , इस कहानी की विशेष बात ये है कि ये अपने आप में एक खूबसरत कविता है ,मुझे तो बहुत पसंद आई... आप ऐसे ही हमेशा लिखते रहो और हम पसंद करते रहेंगे...😊😊
  • author
    Megha Jethva
    10 जून 2020
    Awesome story narrated in a poetic manner...
  • author
    Akansha
    20 जून 2021
    👍