pratilipi-logo प्रतिलिपि
हिन्दी

झूठ

4.4
2225

लिखूं वो ,जो तुम पढ़ना चाहते हो तो वो झूठ होगा दिखूँ मैं अगर तुम्हारे मुताबिक तो वो झूठ होगा जो उसने पूछा कि कैसे चल रहा है अगर कहूँ कि सब ठीक है तो वो झूठ होगा तो यूं समंझ लो कि मैं तुम्हें सच ही ...

अभी पढ़ें
लेखक के बारे में
author
Kapil Choudhary

एक कहानीकार

समीक्षा
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    गुमनाम लड़का
    18 अप्रैल 2020
    Agar adhbhut khu to ye bhi jhud hi hoga 😂👌
  • author
    Uma Mishra
    02 अप्रैल 2020
    कहीं न कहीं ,जीवन की यही सच्चाई है।👏👏👌🙏
  • author
    Renu Gupta स्वीटु "Sweetoo"
    30 जुलाई 2022
    छोटी सी शब्दो में बहुत बड़ी बातें कह दी आपने , सच कहो तो लोग आसानी से स्वीकार कहा करते है
  • author
    आपकी रेटिंग

  • कुल टिप्पणी
  • author
    गुमनाम लड़का
    18 अप्रैल 2020
    Agar adhbhut khu to ye bhi jhud hi hoga 😂👌
  • author
    Uma Mishra
    02 अप्रैल 2020
    कहीं न कहीं ,जीवन की यही सच्चाई है।👏👏👌🙏
  • author
    Renu Gupta स्वीटु "Sweetoo"
    30 जुलाई 2022
    छोटी सी शब्दो में बहुत बड़ी बातें कह दी आपने , सच कहो तो लोग आसानी से स्वीकार कहा करते है